काले झंडों के बीच पीएम मोदी का आंध्र दौरा

विपक्षियों पर जमकर बरसे पीएम

0
437

असम दौरे में भारी विरोध झेलने के बाद पीएम मोदी को रविवार को आंध्र प्रदेश के दौरे में भी विरोध झेलना पड़ा। उनकी गुंटूर में रैली से पहले ही वहां सड़कों को पोस्टरों से पाट दिया गया जिनमें मोदी को कुछ लोग दौड़ा रहे हैं। पोस्टर में पीएम को भागते हुए दिखाया गया है। पोस्टर में लिखा गया है “मोदी अब कभी भी नहीं।” उधर मोदी ने अपने भाषण में चंद्र बाबू नायुडु सहित कांग्रेस और अपने विरोधियों पर जमकर हमला किया।

गौरतलब है कि असम दौरे में पीएम मोदी का काले झंडों के साथ स्वागत हुआ था। शनिवार को चांगसारी में उनकी जनसभा से ठीक पहले दिसपुर में राज्य सचिवालय के सामने एक समूह ने अपने कपड़े उतारकर मार्च निकाला और नागरिकता विधेयक के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। पहले २७  जनवरी को भी उनके तमिलनाडु दोरे पर पीएम मोदी का कड़ा विरोध हुआ था। उन्हें शहर में कई जगहों पर काले झंडे दिखाए गए थे।

हालांकि इससे बेपरवाह मोदी ने रविवार को आंध्र प्रदेश के गुंटूर में विपक्ष पर जमकर निशाना साधा। मोदी ने एनडीए के सहयोगी रहे टीडीपी के प्रमुख और आंध्र प्रदेश के सीएम चंद्रबाबू नायडू पर राज्य को अपने स्वार्थ के लिए बांटने वाली कांग्रेस के समक्ष ”समर्पण” करने का आरोप लगाया।

विपक्षी दलों के महागठबंधन को भी पीएम मोदी ने आड़े हाथों लिया। उनके निशाने पर नायडू ज्यादा रहे। नायडू पर निशाना साधते हुए मोदी ने कहा –  ”जब एनटी रामा राव की विरासत संभाल रहे नेता अपनी कमियों को छिपाने के लिए दूसरों पर आरोप लगाने की राजनीति करने लगें, तो समझ लेना चाहिए कहीं ना कहीं कुछ गड़बड़ है।”

पीएम ने आंध्र विभाजन को लेकर कहा कि जब आंध्र प्रदेश का बंटवारा हुआ, तो केंद्र में कांग्रेस की सरकार थी। ”वही कांग्रेस, जिसने इस बंटवारे में आंध्र प्रदेश और तेलंगाना के लोगों का हित नहीं, अपना स्वार्थ देखा आज उसी कांग्रेस के सामने चंद्रबाबू नायडू जी ने समर्पण कर दिया।”