कर्नाटक में टीपू सुलतान पर राजनीति

सरकार ने मनाई जयंती, भाजपा के विरोध प्रदर्शन

0
241

भाजपा के विरोध के बवजूद शनिवार को कर्नाटक सरकार ने टीपू सुलतान की जयन्ती मनाए। हालाँकि भाजपा ने राज्य भर में इस आयोजन का विरोध किया जिसके फलस्वरूप पुलिस ने पार्टी कार्यकर्ताओं को हिरासत में ले लिया।

रिपोर्ट्स के मुताबिक भाजपा कार्यकर्ता कर्नाटक सरकार टीपू जयंती समारोह के विरोध में प्रदर्शन कर रहे हैं। भाजपा के विरोध प्रदर्शन के चलते आम जनजीवन पर काफी असर पड़ा है। पुलिस ने प्रदर्शन कर रहे भाजपा के कई नेताओं को हिरासत में लिया है। कोडागु, चिकमंगलुरु, चित्रदुर्ग, मांड्या और धारवाड़ जिलों में इसका ज्यादा असर दिखाई दे रहा है। वहां दो दिन के लिए धारा-१४४ लगा दी गई है।

उधर सूबे के मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी ने निजी कारणों का हवाला देते हुए शुक्रवार को ही टीपू जयंती समारोह से किनारा कर लिया था। भाजपा ने सवाल उठाते हुए कहा कि क्या सत्ता जाने के डर से कुमारस्वामी इस समारोह में शामिल नहीं हो रहे। भाजपा टीपू सुल्तान की जयंती का विरोध कर रही है। भाजपा ने कहा है कि टीपू सुल्तान एक हिंदू विरोधी था जिसने हजारों हिंदुओं की हत्या कर दी थी। उस टीपू को कांग्रेस और जेडीएस हीरो बना रही है और उसका श्राद्ध मना रही है।

भाजपा प्रदर्शन को देखते  कोडागू और विराजपत सहित कई इलाकों में सड़कें सूनी दिखीं। लोग जरूरी काम से ही बाहर निकल रहे हैं। भाजपा प्रदर्शन देखते हुए पुलिस ने सुरक्षा के व्यापक इंतजाम किए हैं। चप्पे-चप्पे पर पुलिसकर्मी तैनात हैं। फिलहाल आंदोलन के दौरान कहीं से किसी अप्रिय घटना की सूचना नहीं है।