कर्नाटक-गोवा में चक्रवाती तूफान का कहर, गुजरात में हाई अलर्ट

गुजरात में जारी किया हाईअलर्ट
चक्रवात तौकते बहुत गंभीर चक्रवाती तूफान में बदल गया है और वह गुजरात तट की ओर बढ़ रहा है। भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने रविवार को बताया कि इसके उत्तर पश्चिम की ओर बढ़ने और 17 मई की शाम तक गुजरात तट पर पहुंचने की बहुत संभावना है। यह 18 मई को तड़के पोरबंदर और महुवा के बीच से राज्य के तट को पार करेगा। गुजरात तथा दमन एवं दीव के लिए येलो अलर्ट जारी किया है। 18 मई तक हवा की गति 150-160 किलोमीटर प्रति घंटे तक बढ़ने के आसार हैं। इसके बाद भारी तबाही की आशंका जाहिर की गई है। महाराष्ट्र-गोवा तथा इससे सटे हुए कर्नाटक के तटों पर हवा की गति 70-80 से लेकर 90 किलोमीटर प्रतिघंटे तक हो सकती है। खतरे को देखते हुए डेढ़ लाख लोगों को निचले तटीय क्षेत्रों में स्थानांतरित किया गया है साथ ही  एनडीआरएफ और एसडीआरएफ की 54 टीमें तैनात की गई हैं।

गोवा में कहर बरपा, दिन में छाया अंधेरा
चक्रवात तौकते की वजह से गोवा के कई हिस्सों में रविवार को तेज हवाएं चलीं तथा भारी बारिश हुई, जिस वजह से पेड़ों के साथ ही बिजली के खंभे उखड़ गए और कई इलाकों में बिजली की आपूर्ति बाधित हुई। इससे गोवा के अधिकतर इलाकों में बिजली चली गई है। उन्होंने कहा, बिजली के सैकड़ों खंभे टूट गए हैं। बिजली की आपूर्ति करने वाली 33 केवी की कई हाई टेंशन तारें पेड़ों के गिरने की वजह से प्रभावित हुई हैं। पड़ोसी महाराष्ट्र से गोवा में बिजली की आपूर्ति करने वाली 220 केवी की लाइनें भी प्रभावित हुई हैं।