‘आप’ ने जारी किया घोषणा पत्र

दिल्ली को पूरे राज्य का दर्ज़ा वादों में सबसे ऊपर

0
485
लोक सभा चुनाव के लिए आम आदमी पार्टी (आप) ने अपना घोषणा पत्र जारी कर दिया है। आप प्रमुख दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने गुरुवार को यह घोषणा पत्र दिल्ली में प्रेस कांफ्रेंस में जारी किया।
प्रेस कॉन्फ्रेंस में उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया, वरिष्ठ नेता गोपाल राय, संजय सिंह के अलावा पार्टी के सभी सात उम्मीदवार मौजूद थे। घोषणा पत्र जारी करते हुए  केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली को पूर्ण राज्य का दर्जा पार्टी का सबसे बड़ा प्रयास होगा। उनके मुताबिक २०१९ का यह चुनाव किसी एक पार्टी या मैनिफेस्टो का चुनाव नहीं, भारत के इतिहास में यह टर्निंग पॉइंट साबित हो सकता है।
केजरीवाल ने कहा – ”२०१९ का यह चुनाव भारत के संविधान को बचाने का चुनाव है।  अगर भारत बचेगा तो पार्टियां बचेंगी, मैनिफेस्टो बचेगा। यह चुनाव भाजपा की इस लाइन को हटाने का चुनाव है।” केजरीवाल ने कहा कि आम आदमी पार्टी का बस एक एजेंडा है और वह है अमित शाह और मोदीजी की जोड़ी को केंद्र में सरकार बनाने से रोकना। ”जो भी सरकार बने इनके अलावा, आम आदमी पार्टी उसका समर्थन करेगी।”
केजरीवाल ने कहा कि ७० साल पुरानी दिल्ली को पार्टी पूर्ण राज्य का दर्जा दिलाएगी, उसके लिए जो भी करना पड़ेगा, करेंगे। दिल्ली की सातों सीटें अहम है। केजरीवाल ने दिल्ली वालों से अपील है कि पीएम बनाने के लिए वोट मत देना, दिल्ली को पूर्ण राज्य बनाने के लिए वोट देना। ”यदि दिल्ली को पूर्ण राज्य का दर्जा मिलेगा तो  महिलाएं सुरक्षित होंगी, दिल्ली पुलिस में खाली पड़े दो तिहाई पद भरे जायेंगे, दिल्ली पुलिस का आधुनिकीकरण किया जाएगा, दिल्ली कॉलेज में बच्चों को दाखिल नहीं मिलता, दिल्ली के बच्चों के लिए ८५ फीसदी सीट आरक्षित कर देंगे, दिल्ली में कॉलेज खोलने, ६० फीसदी नंबर आने वाले बच्चों को भी दाखिला मिलेगा।”
आप नेता ने कहा – ”दिल्ली सरकार की नौकरी में दिल्ली के लोगों के लिए ८५ फीसदी नौकरी आरक्षित की जाएगी, पूर्ण राज्य बनने के बाद कर्मचारियों को पक्का किया जाएगा, दिल्ली के इलाकों को हरा भरा किया जाएगा, दस साल में दिल्ली वालों को सस्ती और आसान किश्तों में घर बनाकर दिया जाएगा, डीडीए भ्रष्टाचार का अड्डा बन चुकी है लिहाजा एंटी करप्शन ब्रांच (एसीबी) को वापस दिल्ली सरकार के अंदर लेकर आएंगे।